अम्बेडकरनगर में बनेंगे 10 स्वास्थ्य उपकेंद्र: जिले को 3.4 करोड़ रुपये कराए गए उपलब्ध, लैकफेड को सौंपी गई निर्माण कार्य की जिम्मेदारी

अम्बेडकरनगरएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

सीएमओ डॉ श्रीकांत शर्मा।

अम्बेडकरनगर में जल्द ही 10 स्वास्थ्य उपकेंद्रों का निर्माण कराया जाएगा। स्वास्थ्य उपकेंद्र के निर्माण के लिए 15वें वित्त आयोग के संतुति पर जिले को तीन करोड़ चार लाख 20 हजार रुपये उपलब्ध करा दिया गया है।

स्वास्थ्य उपकेंद्रों के निर्माण की जिम्मेदारी कार्यदायी संस्था लैकफेड को सौंपी गई है। स्वास्थ्य उपकेंद्र के बन जाने से 50 हजार की आबादी को इलाज में सहूलियत होगी। इन स्वास्थ्य उपकेंद्र का संचालन अभी किराये के मकान में चल रहा है।

ग्रामीण इलाकों में गर्भवती महिलाओं को बेहतर इलाज मिले और बच्चों के टीकाकरण के लिए दूर न जाना पड़े, इसके लिए जिले में 323 स्वास्थ्य उपकेंद्र बनाये गये हैं। इन स्वास्थ्य उपकेंद्रों में से 170 ऐसे हैं, जो अपने भवन में संचालित हैं। जबकि 153 किराये के भवन में संचालित हो रहे हैं।

किराए के मकानों में आती है समस्या

किराये के भवन में संचालन से मरीजों को समुचित इलाज की सुविधा मिलने में दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। इन उपकेंद्रों को भी अपना भवन उपलब्ध कराने की मांग समय-समय पर उठती रही है।

इस बीच ऐसे उपकेंद्रों को अपना भवन दिलाने के लिए बीते दिनों शासन ने सीएमओ कार्यालय से प्रस्ताव मांगा था। 75 उपकेंद्रों का प्रस्ताव शासन को भेजा गया। 50 उपकेंद्रों के भवन निर्माण को शासन ने मंजूरी प्रदान की थी। अब 10 स्वास्थ्य उपकेंद्रों के भवन निर्माण के लिए शासन से जिले को धनराशि उपलब्ध हो गई।

30.42 लाख रुपये में बनेगा एक स्वास्थ उपकेन्द्र

सीएमओ डॉ श्रीकांत शर्मा ने बताया कि 30.42 लाख रुपये की लागत से प्रत्येक स्वास्थ्य उपकेंद्र के भवन का निर्माण होगा। प्रत्येक उपकेंद्र पर दो क्लीनिक कक्ष, एएनएम आवास, रसोई घर व चार शौचालय का निर्माण होगा। जिन जगहों पर स्वास्थ्य उपकेंद्र का निर्माण होगा, उनमें अकबरपुर विकास खंड क्षेत्र के स्वास्थ्य उपकेंद्र कसेरुआ, टांडा विकास खंड के देईपुर, केशवपुर, सुलेमपुर, मदारपुर, जहांगीरगंज विकास खंड क्षेत्र के एनवां, पूरनपुर, महारमपुर, विश्वनाथपुर व भरतपुर स्थित स्वास्थ्य उपकेंद्र है।

खबरें और भी हैं…

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.