अब्दुल सत्तार की टिप्पणी को लेकर महिला नेताओं ने राज्यपाल से की मुलाकात, जया बच्चन बोलीं- अपमान बर्दाश्त नहीं

ANI

सपा सांसद ने आगे कहा कि महिलाओं के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाले नेताओं सहित किसी भी व्यक्ति को मिसाल कायम करने के लिए बाहर कर देना चाहिए। आपको बता दें कि अब्दुल सत्तार के विवादित बयान के बाद एनसीपी कार्यकर्ताओं ने जगह-जगह तोड़फोड़ की थी और जमकर विरोध प्रदर्शन किया था।

एनसीपी सांसद सुप्रिया सुले को लेकर महाराष्ट्र के मंत्री अब्दुल सत्तार की कथित आपत्तिजनक टिप्पणी का मामला अब बड़ा होता जा रहा है। आज विभिन्न दलों की महिला नेताओं ने महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की है। महिला प्रतिनिधिमंडल में शिवसेना (उद्धव गुट), एनसीपी और समाजवादी पार्टी की नेता शामिल थीं। राज्यपाल से मुलाकात के बाद समाजवादी पार्टी की राज्यसभा सांसद जया बच्चन ने साफ तौर पर कहा कि महिलाओं का अपमान बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। अपने बयान में जया बच्चन ने कहा कि आज हमने राज्यपाल से मुलाकात की है और जल्द ही हम राष्ट्रपति से भी मुलाकात करेंगे। महिलाओं का अपमान बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। 

इसे भी पढ़ें: भारत जोड़ो यात्रा में शामिल हुईं सुप्रिया सुले, शरद पवार को दी गई आराम की सलाह

सपा सांसद ने आगे कहा कि महिलाओं के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाले नेताओं सहित किसी भी व्यक्ति को मिसाल कायम करने के लिए बाहर कर देना चाहिए। आपको बता दें कि अब्दुल सत्तार के विवादित बयान के बाद एनसीपी कार्यकर्ताओं ने जगह-जगह तोड़फोड़ की थी और जमकर विरोध प्रदर्शन किया था। मंत्री अब्दुल सत्तार के घर के बाहर भी विरोध प्रदर्शन हुआ था और तोड़फोड़ हुई थी। कई जगह पथराव भी किया गया था। हालांकि, लगातार हो रही आलोचनाओं को ध्यान में रखते हुए अब्दुल सत्तार ने माफी भी मांग ली थी। उन्होंने कहा था कि अगर उनकी टिप्पणी से किसी को ठेस पहुंची है तो उन्हें खेद है।

इसे भी पढ़ें: अब्दुल सत्तार के सुप्रिया सुले पर दिए बयान ने लाया महाराष्ट्र की राजनीति में नया तूफान, NCP ने दर्ज कराई शिकायत, मंत्री के घर पर हुई तोड़फोड़

हालांकि, उन्होंने यह बात पर कहा कि शरद पवार की बेटी सुप्रिया सुले के खिलाफ उन्होंने कोई टिप्पणी नहीं की। आपको बता दें कि एकनाथ शिंदे गुट के अब्दुल सत्तार फिलहाल महाराष्ट्र में कृषि मंत्री हैं। इससे पहले शिवसेना नेता आदित्य ठाकरे ने कहा था कि महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को राज्य मंत्री अब्दुल सत्तार की राष्ट्रवादी कांग्रेस नेता (राकांपा) नेता सुप्रिया सुले के खिलाफ कथित टिप्पणियों की जिम्मेदारी लेनी चाहिए। उन्होंने राष्ट्रीय महिला आयोग से इस मामले में हस्तक्षेप करने की भी मांग की थी। वहीं, अब्दुल सत्तार के घर पर पथराव करने और नारेबाजी करने के मामले में 22 लोगों पर मामला दर्ज किया गया था।

अन्य न्यूज़



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.