अखरोट खाने के कुछ फायदे हैं तो कुछ नुकसान, जानें कब और कैसे खाएं?

हमारे दिल व दिमाग के लिए अखरोट बेहद फायदेमंद माने जाते हैं लेकिन इसे कितनी मात्रा में खाना चाहिए यह बहुत कम लोगों को ही पता होता है। वैसे तो नट्स का सेवन सेहत के लिए अच्छा ही होता है लेकिन अधिक व अनियंत्रित तरीके से सेवन करने पर नुकसान भी हो सकता है।

अखरोट को ओमेगा 3 फैटी एसिड से भरपूर ब्रेन फूड माना जाता है। वैसे इसमें अन्य कई पोषक तत्व भी पाए जाते हैं। खासतौर से, ठंड के मौसम में नट्स का सेवन जरूर करना चाहिए। अगर आप भी अपनी डाइट में अखरोट को शामिल करते हैं। कहते हैं कि यदि स्वस्थ रहना है तो दिल का ख्याल रखना बहुत ज़रूरी है और दिल यानि हृदय। हेल्थ एक्सपर्टस की मानें तो पूरी दुनिया में मृत्यु दर के प्रमुख कारणों में से एक है हृदय रोग। ऐसे में दिल की देखभाल करना बेहद ज़रूरी है। संचार प्रणाली के माध्यम से हमारा दिल का काम पूरे शरीर में रक्त को पंप करना है और शरीर के विभिन्न भागों में ऑक्सीजन के साथ-साथ अन्य पोषक तत्वों की आपूर्ति करना है। इसके अलावा दिल में जमा कचरे को हटाने में भी मदद करता है। ऐसे में दिल को स्वस्थ रखने में खान-पान एक बहुत ही बड़ी भूमिका निभाता है क्योंकि जो हम खाना खाते हैं उसका सीधा असर हृदय स्वास्थ्य पर पड़ता है। अखरोट जैसे कुछ अन्य नट्स व बीज हृदय के लिए बहुत अच्छे माने जाते हैं और इनका एक निश्चित मात्रा में सेवन आपके दिल के लिए काफी लाभकारी है। यह हमारे संपूर्ण स्वास्थ्य को आश्चर्यजनक लाभ प्रदान करते हैं। तो इससे आपको कई तरह के लाभ मिलते हैं। तो चलिए जानते हैं ऐसे ही कुछ बेमिसाल फायदों के बारे में−

अखरोट खाने के कितने फायदे हैं, यह जानकार आप यकीनन इसे अपने आहार में श‍ामिल कर लेंगे। तो आइये हम आपको बताते हैं कि कैसे आप अखरोट को दैनिक जीवन में ला सकते हैं और इसे कब और कैसे खाया जा सकता है

इसे भी पढ़ें: Right Way To Eat Dry Fruits: पोषक तत्वों से भरपूर ड्राई फ्रूट्स को खाने का सही तरीका जानते हैं आप?

अखरोट कब और कैसे खाएं?

विशेषज्ञों के अनुसार प्रतिदिन अखरोट के दो से तीन टुकड़ें सुबह-शाम या शाम के नाश्ते के रूप में खाए जाने चाहिए। कोशिश करें कि अखरोट को खाली पेट न खाएं क्योंकि अखरोट के तेल से पेट में आपको जलन हो सकती है।

अखरोट के फायदे

– अखरोट में कई तरह के पोषक तत्वों मौजूद होते हैं, जिसमें मैग्नीशियम, फाइबर, हेल्दी फैट, विटामिन ई और खनिज शामिल होते हैं। साथ ही इसका सेवन टाइप 2 डायबिटीज को मैनेज करने में मदद करता है। 

– ओमेगा-3 फैटी एसिड से युक्त अखरोट शरीर में मौजूद बैड कॉलेस्ट्रॉल को कम करता है, सूजन को कम कर सकता है और साथ ही ब्लड प्रेशर के स्तर को भी कम करने में मदद करता है। जिसके चलते हृदय रोगों का खतरा कम हो जाता है। 

– अखरोट के खाने से शाकाहारियों में विशेषकर से ओमेगा-3 और 6 फैटी एसिड की ज़रूरत को पूरा करने में मदद करता है।   

– इसके अलावा अखरोट वजन घटाने में मदद करता है। इसके अलावा आपको एंटीऑक्सीडेंट भी प्रदान करता है। अखरोट के ये सभी गुण एक साथ हृदय स्वास्थ्य को बढ़ावा देते हैं।

इसे भी पढ़ें: डिलीवरी के बाद कमजोरी को दूर करने के लिए क्या खाएं

दिन में कितना सेवन करना होगा फायदेमंद?

हमारे दिल व दिमाग के लिए अखरोट बेहद फायदेमंद माने जाते हैं लेकिन इसे कितनी मात्रा में खाना चाहिए यह बहुत कम लोगों को ही पता होता है। वैसे तो नट्स का सेवन सेहत के लिए अच्छा ही होता है लेकिन अधिक व अनियंत्रित तरीके से सेवन करने पर नुकसान भी हो सकता है। हेल्थ एक्सपर्ट्स का कहना है कि अखरोट का सेवन सब के लिए अलग प्रकार से है जैसे कुपोषित लोग अखरोट के 10 से 12 टुकड़े खा सकते हैं, जबकि स्वस्थ व्यक्ति 6-7 हिस्से ले सकते हैं। इसके अलावा मोटे लोगों को प्रतिदिन 5 से अधिक अखरोट के टुकड़े का सेवन व हृदय रोग से पीड़ित को 2-4 हिस्सों का ही सेवन करना चाहिए। 

अखरोट खाने के क्या हैं नुकसान?

अखरोट में अधिक कैलरी होती है। ऐसे में इसका सेवन नियंत्रित तरीके से ही करें। अधिक मात्रा में सेवन आप के वज़न को बढ़ा सकता है और दस्त या पेट से जुड़ी अन्य समस्याएं भी हो सकती हैं। अखरोट के सेवन से कुछ लोगों को एलर्जी भी हो सकती है तो डाइट में शामिल करने से पहले एलर्जी की जांच ज़रूर कर लें।

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.